Add

Breaking News

प्रशासन ने चलाया बुलडोजरछोटे-छोटे बच्चों को लेकर अब मैं कहां जाऊं


टीकमगढ़ । बीते रोज तहसील टीकमगढ़ क्षेत्र के ग्राम बकपुरा में प्रशासन ने अतिक्रमण हटाने को लेकर मुहिम चलाई जहां एक परिवार को बेघर कर दिया गया मामला है बगाज माता मंदिर के पास निवासरत राघवेंद्र सिंह सोलंकी का जिनके घर को अतिक्रमण के नाम पर तोड़कर तहस-नहस कर दिया गया । बीते 04 जनवरी 2023 को बगाज माता मंदिर प्रांगण क्षेत्र में मध्य प्रदेश शासन के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान की आम सभा हुई थी जहां उन्होंने आमसभा के दौरान बेटियों के पैर पूजन कर और उन बेटियों का आशीर्वाद लेकर कार्यक्रम
का शुभारंभ किया था और सभा को संबोधित किया था इसी क्षेत्र में निवासरत राघवेंद्र सिंह सोलंकी के मकान को प्रशासन द्वारा तोड़ दिया गया जिनकी तीन छोटी -छोटी बेटियां हैं और एक बेटा है चार छोटे-छोटे बच्चे हैं जिनका कहना है कि अब ऐसे सर्दी के मौसम में, मैं अपने पूरे परिवार को लेकर कहां जाऊं राघवेंद्र सिंह सोलंकी का यह भी कहना है कि प्रशासन द्वारा ना तो मुझे कोई नोटिस दिया गया ना ही कोई सूचना दी गई और सीधा प्रशासन ने मेरे मकान पर बुलडोजर चलवा दिया इस सर्दियों के मौसम में इस परिवार को रहने की बड़ी विचित्र समस्या हो गई है जहां इनका कहना है कि अब मैं अपने छोटे-छोटे बच्चों को लेकर कहां जाऊं। जब इस संबंध में प्रशासनिक अधिकारियों से बात की तो उनका कहना था कि अतिक्रमण हटाया गया है और मकान अतिक्रमण में था जिसे नियम अनुसार हटवाया गया है लेकिन अब समस्या इस परिवार की रहने की है कि यह परिवार कहां जाए। जहां पीड़ित राघवेंद्र सिंह सोलंकी ने शासन प्रशासन से भी गुहार लगाई है कि मैं अपने छोटे-छोटे बच्चे परिवार को लेकर अब कहां जाऊं। जहां एक और मध्य प्रदेश शासन के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान लोगों के आशियानों की योजनाएं चलाकर उनके लिए आशियानों की व्यवस्थाएं कर रहे हैं वहीं दूसरी ओर इस प्रकार की कार्यवाहियां लोगों को बेघर कर रहीं हैं यह माजरा समझ से परे है। हालाकि पीड़ित राघवेंद्र सिंह सोलंकी ने प्रशासन पर तमाम आरोप लगाए हैं कि मुझे ना नोटिस दिया गया ना सूचना दी गई और सीधा मेरा मकान तोड़ दिया गया। उल्लेखनीय है कि जहां एक ओर मध्य प्रदेश शासन के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान बेटियों के पैर पूजन कर उनका आशीर्वाद लेकर अपने कार्यक्रमों की शुरुआत करते हैं वहीं दूसरी ओर बेटियों को ही घर से बेघर करने की कार्यवाहियां की जा रहीं हैं। जहां इस प्रकार की कार्यवाहियां आगामी विधानसभा चुनाव में भी कुछ अपना असर दिखा सकती हैं।

No comments