Breaking News

असाटी समाज द्वारा प्रति वर्ष मनाए जाने वाले शरद उत्सव का हुआ आयोजन

हर वर्ष की भांति इस वर्ष भी सोया सन छात्रावास में शरद महोत्सव का आयोजन किया गया सर्वप्रथम दीप प्रज्ज्वलन किया जिसके पश्चात कार्यकर्म की शुरुआत हुई। जिसमें मुख्य अतिथि टिंकल नायक मैनवार अवाम नीरज नायक चंदेरी रहे। उनका स्वागत युवा अध्यक्ष द्वारा किया गया। सम्पूर्ण कार्यक्रम का संयोजन रामलाल असाटी द्वारा किया गया। मंच संचालन नीतेश नायक एवं श्रीमती रुपाली लाज वाले ने किया ।सांस्कृतिक कार्यक्रम में बच्चों के एकल सामूहिक, नृत्य कविता, भाषण आदि थे जिसके निर्णायक मंडल में श्रीमती कविता स्याग, मोहनी पचरा, अमिता सुजारवाले रहे। एकल नृत्य में अरु नायक वर्तिका प्रथम व गौरी पठा, राधिका द्वितीय मान्या, आरव तृतीय रहे।कविता पाठ में ओम, प्रथम कवि द्वितीय रहे ।सामूहिक एंटिटी में सोम सौम्या प्रथम द्वितीय स्वाति परी रौनकसौम्या सिद्धि स रहे। निर्णय श्री मति अनुपमा नायक द्वारा बताया गया। पुरुस्कार वितरण m k असाटी हरि स्याग ,रामलाल,अंशुल आशीष नीतेश संतोष जी स्वामी जी लखन वकील जी सावित्री असाटी रेखा नायक एवं राकेश नायक द्वारा किया गया 
 उसके पश्चात असाटी समाज हेतु तैयार की गई डायरेक्टरी पुस्तक का विमोचन समाज के अध्यक्ष राकेश नायक द्वारा किया गया। जिसमे जिज्ञासा ,सोना पचरा, संतोष मैनवार, संतोष नायक बर्तन वाले ने विशेष सहयोग प्रदान किया जिससे किताब का विमोचन सम्भव हो पाया। कार्यक्रम के अंत मे सभी महिलाओं ने गरबा नृत्य कर आनंद मनाया ।विषेध पुरुस्कार आयुषी लखनलाल एवं अल्पना स्याग को दिया गया। सभी समाज बंधुओं ने बाँके बिहारी मंदिर के पुननिर्माण के संकल्प को दोहराते हुए स्वरूचि भोज का आनंद प्राप्त किया।
 पुस्तक की प्रस्तावना व विवरण श्री रामलाल पटवारी द्वारा किया गया ।कार्यक्रम के समापन में युवाध्यक्ष अंशुल पठा द्वारा समाज बंधुओं को धन्यवाद किया गया

टीकमगढ़ दर्पण से गिरीश कुमार खरे की रिपोर्ट

कोई टिप्पणी नहीं