Breaking News

आपके चेहरे की खुशी मेरे जन्मदिन का सच्चा प्यार -अर्पित पिपरसानिया, विदेश में रहने पर भी नहीं भूले अपने शहर वासियों को

अर्पित पिपरसानिया शहर के समाजसेवियों में गिने जाते हैं इनके द्वारा समाज सेवा की भी कार्य निरंतर किए जाते रहे हैं अभी कुछ समय पहले हमारे द्वारा एक खबर प्रकाशित की गई थी जिसमें एक बच्ची को आर्थिक सहायता की जरूरत थी खबर पढ़ते ही अर्पित जिला अस्पताल पहुंचे और उस मरीज की आर्थिक रूप से मदद की कोरोना काल में भी इनके द्वारा शहर वासियों की मदद की गई और उन्हें राशन एवं आर्थिक मदद से सहायता दी अर्पित हमेशा अपने शहर वासियों के लिए हर संभव मदद करने के लिए तत्पर्य रहते हैं अर्पित पिपरसानिया के द्वारा आज अपने जन्मदिवस पर शहर के जिला अस्पताल में मरीजों को स्वल्पाहार बटवाया गया अर्पित का कहना है कि आपके चेहरे की खुशी उनके लिए उनका सच्चा उपहार है इसी उद्देश्य को लेकर उनके द्वारा आज जिला अस्पताल में भर्ती मरीजों उनके परिजनों को फल ब नामकिन की एवं मिठाई बटवा कर अपनी खुशियों में शामिल किया है वर्तमान में अर्पित विदेश में रह रहे हैं लेकिन वह अपने शहर वासियों को नहीं भूले और अपने खास मित्रों की मदद से शहर के जिला अस्पताल में अपने जन्मदिवस पर फल व नमकीन एवं मिठाई बटवा कर अपना जन्म दिवस मना रहे हैं उनका मानना है उनके शहर वासी उनका परिवार है और खुशियां परिवार के साथ ही मनाई जाती हैं इसलिए उनके द्वारा आज यह कार्य किया जा रहा है वह यहां मौजूद नहीं है लेकिन उनके मित्रों द्वारा उनके बताए अनुसार यह कार्य किया जा रहा है
अशरफ राईन, आदर्श जैन तेवरैया, रोहिल जैन, प्रतीक जैन, सिद्धान्त भदौरा ,विशाल रजक, अभिषेक मैनवार, सिद्धांत जैन मनु,दिलीप रजक,

टीकमगढ़ दर्पण से गिरीश कुमार खरे की रिपोर्ट

कोई टिप्पणी नहीं