Breaking News

सुविधाओं के अभाव में प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र चंदेरा भगवान भरोसे

ना तो डिलीवरी के लिए 108 ना ही लैब टेक्नीशियन आखिर कैसे चले अस्पताल
सुविधाओं के अभाव में विगत दिवस हुई थी एक महिला की डिलीवरी के दौरान मौत

टीकमगढ़/चंदेरा । सागर संभाग की सबसे बड़ी ग्राम पंचायत चंदेरा आज भी अपनी किस्मत पर रो रही है कहने के लिए तो यहां पर एक प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र खोल रखा है जिसमें डॉक्टर तो  है स्टाफ है लेकिन लैब टेक्नीशियन का पद आज भी  खाली है ना ही चंदेरा के लिए 108 की व्यवस्था की गई है ना ही कई अन्य सुविधाएं दी गई है जबकि कोई भी मरीज आए सबसे पहले जांच होती है लेकिन लैब टेक्नीशियन ना होने के कारण मरीजों को कोई सुविधा उपलब्ध नहीं हो पा रही है 108 की सुविधा ना होने के कारण विगत दिवस ग्राम पंचायत चंदेरा की रैकवार समाज की एक महिला की डिलीवरी के दौरान मौत हो गई थी जहां तक अस्पताल की बात की जाए तो बरसात के मौसम में पूरी अस्पताल में अंदर टीम टीम पानी गिरता रहता है क्योंकि पूरा अस्पताल का छत उखड़ा पड़ा हुआ है जिससे पूरी अस्पताल में पानी भर जाता है जबकि इस अस्पताल से एक दर्जन से ज्यादा ग्राम जुड़े हुए हैं जैसे वीरपुरा, पहाड़ी, सगरबारा, उदयपुरा, पठारी,  पैतपुरा, फतेह का खिरक, गोटेट, सियावनी, दरियापुर, मोर पहाड़ी, नूना, महेवा,खरौ, मैदबारा सहित अनेक ग्राम जुड़े हुए हैं जब मरीज अस्पताल में आता है उसको सुविधाएं ना मिले तो वह बड़ा मायूस होकर के वापिस चला जाता है जहां तक यहां पदस्थ स्टाफ की बात की जाए पूरा स्टाफ लोकल का होने के कारण कोई भी अपनी ड्यूटी नहीं करना चाहता है सब स्टाफ अपने आप को पावरफुल समझता है अब आखिर ड्यूटी करे तो करे कौन यहां पर सबसे बड़ी बात तो यह है कि रात के समय डिलीवरी आए तो ना डॉक्टर मिलेंगे ना ही स्टाफ मिलेगा जिसका निरीक्षण विगत दिवस वरिष्ठ अधिकारी के द्वारा किया गया था जिसने स्टाफ नर्स की एब्सेंट भी लगाई थी जब इस संबंध में डॉक्टर संजय कुशवाहा से चर्चा की गई तो डॉक्टर ने बताया मैंने कई बार वरिष्ठ अधिकारियों को लिखकर के दे दिया है  उनको मौखिक अवगत भी करा दिया गया है कि अस्पताल में यह कमी है मैं क्या कर सकता हूं इस लचर व्यवस्था में आखिर कैसे हो अस्पताल का विकास और कैसे गरीब मरीज का इलाज

इनका कहना है ।
मेरे द्वारा सीएमएचओ को बताया गया है की चंदेरा में लैब टेक्नीशियन का पद खाली है जल्द ही व्यवस्था होगी जहां तक 108 की बात है तो मैं चंदेरा पॉइंट जल्द ही जुड़वा रहा हू जहां तक स्टाफ की बात है तो मैं डॉक्टर को अभी  निर्देश देता हूं जो भी ड्यूटी में लापरवाही करेगा सख्त कार्रवाई की जाएगी मेरे द्वारा

डॉक्टर संजय अहिरवार 
बीएमओ जतारा

कोई टिप्पणी नहीं