Breaking News

चढ़ार समाज ने की बक्सवाहा जंगल बचाने की अपील


टीकमगढ़ । अखिल भारतीय चढार समाज युवा महा संगठन भारत के प्रमुख कार्यकर्ता समाज एवं जन सेवक मप्र प्रदेश मीडिया प्रभारी उमाशंकर राजाराम चढ़ार निबोरा ने कहा कि सरकार हीरे के चक्कर से बक्सवाहा के जंगल में लगे करीब दो लाख पेड़ पौधों को काट रही हैं जैसा कि आप सभी जानते हैं कि इस कोरोना महामारी में हम सबको ऑक्सीजन की कितनी कमी महसूस हुई और अगर हम सब इसी प्रकार से पर्यावरण को नुकसान पहुंचाते रहे तो हम सब का जीना असंभव हो जाएगा इसलिए आप सभी अपने अपने स्तर से बक्सवाहा जंगल को बचाने के लिए सरकार से आग्रह करें चढ़ार ने कहा कि हमारे लिए हीरा आवश्यक नहीं है हमारे लिए ऑक्सीजन आवश्यक है जिससे हमें जीवित रहना है सरकार से हमारा अनुरोध है कि बक्सवाहा जंगल को ना काटें दिए गए थे प्रस्ताव पर पुनः विचार कर लें जंगल काटना उचित नहीं होगा और राजाराम चढार नेता जी ने कहा कि सूखी धरती करे पुकार बृक्ष बचाकर करो सिंगार और कहा कि अगर सरकार नहीं मानती है तो हम सब चिपको आंदोलन को पुनः  दोहराएंगे इसलिए आप सभी पर्यावरण के प्रति जागरुक होकर उसकी रक्षा करें जंगल को बचाने में मप्र प्रदेश मीडिया प्रभारी उमाशंकर राजाराम चढ़ार निबोरा,  राजाराम चढ़ार नेता जी, संदीप चढार, मुकेश आठिया जी , बबलू चढार,उत्तम चढ़ार, पीएस आठिया,  प्रेमचंद आठिया,नितेश चढ़ार ,भूपेंद्र चढ़ार, राकेश चढार, मनमोहन चढार,देवराज ,सोनू , आदि सामाजिक कार्यकर्ताओं ने जंगल को बचाने की अपील की

कोई टिप्पणी नहीं