Breaking News

मनरेगा में मजदूरी मांगने पर सरपंच सचिव ने दी एफ आई आर कराने की धमकी


जतारा। सागर संभाग की सबसे बड़ी ग्राम पंचायत इन दिनों भ्रष्टाचार के मामले में चर्चा  में बनी हुई है। यहां मजदूरों को मजदूरी ना देकर मशीनों से निर्माण कार्य कराए जा रहे हैं ताजा मामला रात 12:00 बजे जेसीबी मशीन से मनरेगा सुदूर सड़क का निर्माण जेसीबी मशीन के द्वारा कराया जा रहा था जब ग्रामीण वहां पहुंचे तो ग्रामीणों ने विरोध किया  ग्रामीण विजय कुशवाहा, सुनील कुशवाहा, प्रमोद कुशवाहा, मनोज कुशवाहा  ने  बताया गया कि हम लोगों ने  सरपंच और सचिव से मनरेगा के निर्माण कार्य में मजदूरी मांगी  तो उन्होंने धमकी देते हुए कहा  की  सभी लोगों पर एफ आई आर  करा दूंगा। ग्रामीणों के द्वारा बताया गया लगातार यहां की शिकायतें भी की जा रही है लेकिन मामले को गंभीरता से नहीं लिया जा रहा है हम लोग लगातार मजदूरी के लिए परेशान  हैं और यहां सरपंच सचिव रोजगार सहायक के द्वारा मशीनों से निर्माण कार्य कराए जा रहे हैं। ग्रामीणों ने बताया कोरोना के चलते हम लोग बाहर मजदूरी करने के लिए भी नहीं जा पा रहे हैं। जिससे हमारे परिवार का भरण पोषण नहीं हो पा रहा है।

                      इनका कहना है 

सरपंच सचिव पर कार्रवाई होनी चाहिए बिना परमिशन इन्होंने मशीन कैसे चलाई मैं अभी जिला पंचायत सीईओ एवं कलेक्टर टीकमगढ़ से बात करता हूं। 
सुरेश धाकड़ 
राज्यमंत्री,प्रभारी मंत्री टीकमगढ़

मनरेगा योजना शासन ने लोगों को रोजगार प्रदाय करने के लिए बनाई है हमारे देश के प्रधानमंत्री केंद्र सरकार और मध्य प्रदेश सरकार द्वारा जी  खोलकर पैसा दिया जा रहा है एक ओर जहां गांव का विकास हो दूसरी ओर गांव के लोगों को रोजगार मिले अगर मशीन के द्वारा कार्य कराया जा रहा है यह गलत है ग्रामीणों को अगर धमकी दी जा रही है यह भी गलत है हम जिला पंचायत सीईओ से बात करेंगे जो गलत करेगा उसे किसी भी प्रकार से बख्शा नहीं जाएगा।
 हरिशंकर खटीक
 विधायक जतारा ,भाजपा प्रदेश महामंत्री

आपके द्वारा मामले की जानकारी मिली है मैं अभी  जतारा जनपद सीईओ को जांच के लिए बोलता हूं जांच के बाद दोषियों पर कार्रवाई की जाएगी। 
एसके मालवीय, 
जिला पंचायत सीईओ टीकमगढ़ 
 
सरपंच सचिव के द्वारा मशीन से कार्य कराया जा रहा है तो  सरपंच सचिव पर कार्रवाई की जाएगी।
डॉ.सौरभ सोनवणे
एसडीएम जतारा

कोई टिप्पणी नहीं