Breaking News

मुझे हीरे नहीं बक्सवाहा जंगल चाहिए:- उमाशंकर चढ़ार


टीकमगढ़:- जैसा कि आप सभी जानते हैं कि सरकार हीरे के चक्कर से बक्सवाहा  जंगल में लगे करीब दो लाख पेड़ पौधों को कटवा रही है जिसमें कई प्रकार के वन्य जीव  पशु पक्षी  भी हैं सरकार को इस पर ध्यान देना चाहिए राष्ट्रीय चढ़ार युवा संगठन के मध्य प्रदेश प्रदेश मीडिया प्रभारी एवं जन सेवक उमाशंकर राजाराम चढ़ार निबोरा  ने सरकार से अनुरोध  किया की जंगल न  काटा जाए और हमारे लिए हीरे आवश्यक नहीं ऑक्सीजन आवश्यक है जिससे हमें  जीवित रहना  है अगर जिंदगी रही तो पैसा या हीरा हम कहीं और से भी कमा लेंगे उमाशंकर  चढ़ार ने  कहा कि हम और आप सभी को प्रकृति के प्रति जागरूक होना होगा आप सभी जानते हैं कि दस लडको के  बराबर एक पेड़ होता है और कहा कि सूखी धरती करे पुकार,  वृक्ष बचाकर करो सिंगार

कोई टिप्पणी नहीं