Breaking News

शिक्षक की अनूठी पहल गांव में कोरोना संक्रमण काल में शादी रूकवाने किया जा रहा है जागरूक

पृथ्वीपुरः-जनपद अंतर्गत आने वाली ग्राम पंचायत चिक्टागुलेंदा में शिक्षक के द्वारा अनूठी पहल कर ग्राम में आयोजित होने वाले शादी समारोहों को कोरोना संक्रमण काल में नहीं करने के लिये जागरूक कर प्रेरित किया जा रहा है।
चिक्टा ग्राम पंचायत में पदस्थ शिक्षक अनिल कुमार पटैरिया के द्वारा प्रत्येक घर मे जाकर लोगों को निःशुल्क मास्क वितरण किये जा रहे है। और गांव की मे चैराहा, स्कूल के पास, रास्ते में पानी भरने की जगह यात्री प्रतीक्षालय पंचायत भवन सहित दुकानों पर जाकर लोगों को कोरोना संक्रमण
के वायरस से बचने के लिये जागरूक किया जा रहा है वहीं पम्पलेट चिपकाकर लोगों को सूचना दी गई कि शासन की गाईड लाईन का पालन करें। साथ ही ग्रामीण और बच्चे बार बार देखकर पडे और उन्हे अपनाये शिक्षक ने कई लोगों से सम्पर्क कर पता किया कि कई लोग मई और जून में शादी विवाह के कार्यक्रम कर रहे है तब उन्हे समझाया और बताया कि इस तरह से इस समय शादी विवाह व अन्य समारोह आयोजित करने पर भीड होगी और कोरोना फैलने का डर रहेगा। शासन की गाईड लाईन का पालन करते हुये 6 माह बाद शादियां करें उसके लिये विद्यालय की ओर से शिक्षको द्वारा गांव में जिन लोगों ने शादिया 6 माह बाद करने का आश्वासन दिया उन लोगों को समस्त शिक्षको की ओर से
21 सौ रूपये की राशि प्रोत्साहन के रूप में दी जायेगी। उन्होने कहा कि कोरोना का खतरा टला नही है और आयोजन नही होने से भीड एकत्रित नही होगी घर घर जाकर कोरोना से बचने के तरीके पोस्टर के माध्यम से बताये गये। घर से निकलने पर मास्क लगाकर ही निकलने की हिदायत दी
गई। शिक्षक के द्वारा अपनी ओर ग्राम वासियों को अनूठी पहल करके निःशुल्क मास्क का वितरण किया गया। ग्राम वासियों ने शिक्षक की पहल की सराहना की और उन्होने आश्वासन दिया कि इस समय शादी नही करेंगे। और जब माहौल सामान्य हो जायेगा और परिस्थितियां सही होंगी तभी अपने बच्चो की शादियां करेंगे। ग्राम के रामप्रसाद अहिरवार की पुत्री की शादी मई में होना है ग्राम के ही देवकी यादव के लडके की शादी जून में होना है इन लोगों ने शिक्षक की पहल पर अपने बच्चों की शादियां 6 माह के लिये स्थगित करदी। और स्थिति सामान्य होने के बाद ही इन लोगों ने शादियां आयोजित करने की बात कही है। शिक्षक पटैरिया ने लोगों को जागरूक किया और वैक्सीनेशन कराने के लिये लोगों को जागरूक किया।

कोई टिप्पणी नहीं