Breaking News

किसान के वाडे का तार लगाकर किया रास्ता बंद

 


पृथ्वीपुर- थाना अंतर्गत आने वाली ग्राम पंचायत मजरा मकारा गांव में किसान की मवेशीयो के लिये बने बाडे में मुख्य रास्ते पर दबंगो के द्वारा तार फेंसिंग कर रास्ता बंद कर दिया है। 
किसान बलवान सिंह यादव निवासी मजरा मकारा ने पुलिस को शिकायती आवेदन देकर आरोप लगाया कि उनके ग्राम स्थित मवेशियों के लिये पटैती भूमि पर बने हुये मकान के बाडे में जानवरो के आने जाने के लिये रास्ता है। जिसे ग्राम के दबंग द्वारका प्रसाद, कोमल, रामअवतार, विनोद, आदि ने मिलकर मकान से सटाकर लोहे के तार की फेसिंग कर दी जिससे उनके मवेायो को बुधवार से वहां से निकल नही पा रहे है जिससे वह इस भीषण गर्मी के मौसम में पेयजल और चरने के लिये मौहताज है। इन लोगो से तार फेसिंग हटाने को कहा तो यह लोगो के द्वारा दबंगाई दिखाकर गाली गलॉज करते है और जान से मारने की धमकी देते है। किसान ने पुलिस से कार्यवाही की मांग की है। 
नगर परिषद के द्वारा निरंतर सक्रमण को रोकने की दिशा में नगरीय कर्मचारी अपना अमूल्य योगदान देने में लगे हुये है। 
राष्ट्रीय आपदा के रूप में आई कोरोना महामारी की इस दूसरी लहर ने मानवता को झंझकोर कर रख दिया है। कोरोना महामारी के चलते जहां सब कुछ बंद है वही कुछ कर्मचारी अपनी जान जोखिम में डालकर मानवता को बचाने के इस संघर्ष में दिन रात लगे हुये है। उसी में शामिल है नगर परिषद के कर्मचारी जो साफ सफाई करने के अलावा कोरोना सर्वे, मास्क वितरण, नगर में सेनेटाइजेन, कोरोना किट का वितरण, दाह संस्कार में शामिल, आदि कार्यो का जिम्मा सभाले हुये है और कोरोना मरीज की मृत्यु होने पर विधिविधान में अंतिम संस्कार कराने की जिम्मेदारी भी नगर परिषद के कर्मचारियो के कंधे पर है। नगर परिषद के कर्मी कोरोना काल में विपरीत परिस्थितियो के बीच अपने इन दायित्वो का निर्वहन वाखूवी कर रहे है। इन कर्मचारियो की सेवा भावना व मानवीय दृष्टिकोण को देखते हुये नगर परिषद के सीएमओ प्रदीप ताम्रकार ने समस्त कोरोना योद्वा कर्मचारियो का आभार व्यक्त करते हुये कहा कि ये कर्मचारी मेरे साथ कंधे से कंधा मिलाकर नगर वासियो के हित में जिस तरह दिन रात मेहनत कर रहे है। उसका कोई मूल्य नही हो सकता। 

कोई टिप्पणी नहीं