Breaking News

35 गाँवो के 5000 से अधिक लोगो का मददगार बना अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद




टीकमगढ़ । देशभर में कोरोनावायरस की दूसरी लहर के चलते संक्रमण शहरों के चौक-चौराहों से होता हुआ अब गावों की झुग्गी-बस्तियों की तंग गलियों में पहुंच गया है। सामान्यतः गावों की बस्तियों में एक छोटे से घर में चार-आठ लोग रहते हैं। और गलियारे सकरे होने के कारण संक्रमण एक व्यक्ति से दूसरे व्यक्ति में आसानी से पहुंच सकता है। बस्तियों में संक्रमण को फैलने से रोकने के लिए टीकमगढ़ की अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद पिछले 7 दिनों से "ब्रेक द चैन" अभियान चला रही है। इस अभियान के लिए परिषद के कार्यकर्ताओं ने 6 टीमें बनाई हैं। प्रत्येक टीम मैं 5-5 कार्यकर्ता गांवों में घर-घर जाकर लोगों का तापमान और ऑक्सीजन चैक करने के साथ ही काढ़ा उपलब्ध करा रहे है। जिसमे जिले के 35 ग्रामीण क्षेत्रों में लोगो की स्क्रीनिंग एवं ऑक्सीजन की जांच की और वैक्सीनेशन के लिए किया प्रेरित। आज भी सभी कार्यकर्ताओं ने अलग अलग ग्रामीण क्षेत्रों में अभियान जारी रखा।
परिषद के प्रांत सहमंत्री संकल्प जैन ने बताया अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद के कार्यकर्ता जिस प्रकार से पूरी ताकत के साथ लगे हुए हैं, उसी प्रकार से नागरिकों का इस अभियान में पूर्ण सहयोग मिला। सभी बढ़ चढ़ के हमारा सहयोग कर रहे है । टीकमगढ़ में कुल 35 गांव तक विद्यार्थी परिषद पहुंची एवं 2540  परिवारों से संपर्क कर 5574 लोगो की जांच की एवं वैक्सीनेशन के लिए प्रेरित किया । जहा एक ओर यह देखने में भी मिल रहा है की टीकमगढ़ में संक्रमण कम होता नजर आ रहा है वही दुसरी ओर विद्यार्थी परिषद ने इस अभियान को 25 मई तक बढ़ाया ताकि जल्द से जल्द हम इस महामारी से जंग जीत पाए।
नगर मंत्री आशय वर्मा ने बताया कि विद्यार्थी परिषद का यह सेवा अभियान कोरोना काल में कारगर सिद्ध हुआ । अभी ब्रेक दी चैन अभियान के तहत सभी कार्यकर्ता लगातार ग्रामीण क्षेत्रों में घर घर जाकर ऑक्सीजन एवं तापमान की जांच में भी लगे है एवं सूखे राशन के साथ भोजन पैकेट भी बांट रहे हैं जो कि अब लगातार जारी रहेगा। जिससे कि हम इस विपरीत समय में भी लोगो की परेशानियों को कम करके इस महामारी से लड़ने में निर्णायक भूमिका निभाएं।
इस अभियान के दौरान जिला सह संयोजक अजय सिंह गौर,प्रिंस द्विवेदी, रितेंद्र बुंदेला, प्रांत कार्यकारिणी सदस्य ऋषि अवस्थी, ब्रजेंद्र यादव, रमेश रैकवार,हर्ष रावत, दीपक लोधी, दिनेश चढ़ार,अरविंद चडार, जितेंद्र कुशवाहा, अंबर जैन, विक्रम प्रताप सिंह परमार, अभी राजा परमार, मेहुल लोधी आदि कार्यकर्ता अभियान में  उपस्थित रहे।

कोई टिप्पणी नहीं