Breaking News

मदर्स डे पर विधायक राकेश गिरी ने दिये मां बेटे को 25000रु. की सहायता राशि


बच्चे के भरण-पोषण के लिए डाले जाएंगे मेरे स्वयं की तनख्वाह से हर माह दो हजार रुपये ।
टीकमगढ़। कोरोना महामारी और लॉकडॉन में गरीब और असहाय लोगों के घर का भरण पोषण नहीं हो पा रहा है जहां राकेश गिरी के द्वारा लगातार ऐसे लोगों की मदद की जा रही है वही विधायक राकेश गिरी और पूर्व नगरपालिका अध्यक्ष लक्ष्मी गिरी ने मदर्स डे पर शहर के भैरव मोहल्ला निवासी अंजलि खरे व उनके बच्चे को 25000 रुपये की सहायता राशि प्रदान की है। बताया गया कि शहर की भैरव मोहल्ला निवासी अंजलि खरे के पति कैलाश खरे की 22 फरवरी 2019 में सड़क दुर्घटना में मौत हो गई थी। जब से आज तक उनके घर का भरण पोषण सही तरीके से नहीं हो पा रहा था जहां इस कोरोना काल मे इस परिवार की सूचना जैसे ही क्षेत्रीय विधायक राकेश गिरी व उनकी पत्नी लक्ष्मी गिरी को लगी वैसे ही विधायक राकेश गिरी ने अपनी पत्नी लक्ष्मी गिरी के साथ पहुंचकर श्रीमती अंजलि खरे व उनके बेटे को 25000 रुपये नगद दिए वहीं उन्होंने कहा कि जब तक मैं विधायक हु तब तक उनकी स्वयं की तनख्वाह से बच्चे की भरण पोषण के लिए 2000 रुपये प्रति माह दिए जाएंगे जिससे कि बच्चे की पढ़ाई और भरण-पोषण के लिए कोई परेशानी नहीं आए इस दौरान विधायक राकेश गिरी ने कहा कि लगभग 2 वर्ष पहले शहर के भैरव मोहल्ला निवासी अंजलि खरे के पति की सड़क दुर्घटना मैं मत्यु हो गई थी उस दिन मेरे द्वारा संकल्प लिया गया था कि इनके घर में कोई भी परेशानी आएगी उसे मेरे द्वारा पूरा किया जाएगा उसी को लेकर इस कोरोना काल को देखते हुए मेरे द्वारा आज मदर्स डे पर उनकी पत्नी व बच्चे को 25000 रुपये नगद दिए गए हैं वहीं उन्होंने कहा कि जब तक मैं विधायक हूं उनके बच्चे के भरण-पोषण लालन के लिए मेरी स्वयं की तनख्वाह से बच्चे के लिए 2000 रुपये प्रति माह दिए जाएंगे। वहीं विधायक राकेश गिरी ने कहा कि मेरे द्वारा लगातार लोगों की मदद की जा रही है और इस कोरोना काल मै हमेशा सभी के लिए खड़ा हूं जिसको ऑक्सीजन की कमी उन्हें ऑक्सीजन दिया जा रहा जिसको इंजेक्शन की कमी तो उन्हें इंजेक्शन दिया जा रहा है लगातार ऐसे प्रयास मेरे द्वारा किए जा रहे हैं ताकि हमारी शहर की जनता को कोई परेशानी ना आए। वहीं विधायक राकेश गिरी ने कहा शहर की जनता के द्वारा लगातार मेरा और जिला प्रशासन का पूर्ण सहयोग किया जा रहा है उसके लिए उन्होंने भगवान से प्रार्थना की।

कोई टिप्पणी नहीं