Breaking News

नगरपालिका के भ्रष्ट अधिशाषी अधिकारी के खिलाफ पत्रकारों ने खोला मोर्चा । पत्रकारों के साथ अभद्रता करने पर हुई एफआईआर दर्ज


पत्रकारों से अभद्रता करने पर नगर पालिका के अधिशाषी अधिकारी पर एफआईआर दर्ज।

भ्रष्ट अधिकारी ईओ के खिलाफ लामबंद हुए पत्रकारों ने उठाई कड़ी कार्रवाई की मांग ।

सीतापुर में एक लाख की रिश्वत लेते हुए रंगे हाथों पकड़ा गया था ईओ निहाल चंद।
रमेश श्रीवास्तव ललितपुर 
ललितपुर की नगर पालिका में अधिशाषी अधिकारी के पद पर कार्यरत निहाल चंद द्वारा पत्रकारों के साथ अभद्रता कर दी जिससे पत्रकार साथियों में रोष व्याप्त हो गया बड़ी संख्या में आक्रोशित पत्रकारों ने ललितपुर के घंटाघर के पास एकत्रित होकर जमकर नारेबाजी करते हुए जिला प्रशासन से कार्रवाई की मांग पर अड गए थे उच्चाधिकारियों के आदेश पर नगरपालिका के ईओ के खिलाफ पुलिस ने मामला पंजीकृत कर लिया था । बुधवार को ग्रामीण पत्रकार एसोसिएशन के जिलाध्यक्ष सुरेश प्रकाश कोंतेय संरक्षक महेंद्र सतभैया के नेतृत्व में ललितपुर में भ्रष्ट अधिकारी के खिलाफ जमकर विरोध प्रदर्शन एवं नारेबाजी की गई । सैकड़ों की संख्या में कम्पनी बाग में उपस्थित पत्रकारों ने हाथों में नारे लिखी तख्तियां को लेकर कम्पनी बाग से नारेबाजी करते हुए निकले नगर पालिका कार्यालय के सामने पंहुच कर जमकर नारेबाजी की इसके बाद काफी देर तक घंटाघर पर विरोध प्रदर्शन किया गया निहाल चंद मुर्दाबाद के नारे लगाए गए पत्रकारों ने ठाना है भ्रष्ट अधिकारी को ललितपुर से भगाना है। घंटाघर पर जमकर नारेबाजी करने के बाद पत्रकारों का संगठन जिलाधिकारी कार्यालय पर पंहुचा वहां पर भी भ्रष्ट अधिकारी को हटाने एवं कड़ी कार्रवाई के  लिए पत्रकारों ने जमकर प्रदर्शन किया । इस समबंध में पत्रकारों द्वारा  जिलाधिकारी को एक ज्ञापन सौंपा गया ज्ञापन के माध्यम से बताया गया की ललितपुर जनपद में ईओ के पद पर तैनात भ्रष्ट अधिकारी निहाल चंद एक मकान को जेसीबी से गिरवा रहा था और पूरा मार्ग बाधित किए हुए था मौके पर पंहुंचे पत्रकार सुरेश प्रकाश कोंते एवं आशीष रिछारिया ने यह पूंछ लिया की यह मकान किस के आदेश पर गिराया जा रहा है। इतना पूंछते ही वह पत्रकारों के साथ अभद्रता करने लगा और जान से मारने की धमकी देने लगा । पत्रकारों ने जिलाधिकारी को बताया की उक्त अधिकारी सन 2018 सीतापुर में एक लाख की रिश्वत लेते हुए पकड़ा गया था और एक माह जेल भी रहा था ।  ऐसे भ्रष्ट अधिकारी को तत्काल प्रभाव से निलंबित करके कड़ी कार्रवाई की जाए ।ज्ञापन देने वालों में आनंद प्रकाश गुप्ता अभिषेक जैन अनोरा रमेश श्रीवास्तव, राजू तिवारी राजेंद्र गोस्वामी, राकेश टोटे, आशीष रिछारिया संजय अवस्थी,सुरेंद्र यादव, दीपक दुबे संदीप मिश्रा प्रियंका जैन इंद्रपाल पाल, जितेंद्र पाल अजीज मोहम्मद आमिर खान, बबलू रत्नाकर शिवेंद्र भदोरिया, शंकर सिंह ,ताहर सिंह, राजीव त्रिपाठी शिव नारायण तिवारी अजीज मोहम्मद राम कुमार चौरसिया, गाना सतीश नायक दिनेश  पस्तोर, आसाराम तिवारी सुरेंद्र सपेरा अखिलेश कुमार जैन मनोज तिवारी विनोद मिश्रा सेलू पुरोहित मनोज टाटा , अंशुल दुबे, बहादुर, गिर्राज रावत, के अलावा सैकड़ों की संख्या में पत्रकार साथी मौजूद रहे।

कोई टिप्पणी नहीं