Breaking News

बेटियों के जन्म को महोत्सव की तरह मनाएं अभिभावक । अस्पताल में बेटियों को जन्म देने वाली माताओं को जिलाधिकारी ने दी बधाई बांटे सम्मान पत्र ।


जिला अस्पताल में बेटियों को जन्म देने वाली माता को  सम्मान पत्र देते जिलाधिकारी ।
ललितपुर। जिलाधिकारी अन्नावि दिनेशकुमार द्वारा जिला महिला चिकित्सालय में जन्मी 19 बालिकाओं के जन्म के उपलक्ष्य में ''बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओÓÓ योजनान्तर्गत उनकी माताओं को बधाई सन्देश/सम्मान पत्र, बेटियों के नाम पर वृक्ष लगाने हेतु एक-एक वृक्ष गमला सहित, बच्चों के कपड़े, ड्राई फ्रूडस एवं कैरी बैग का वितरण किया गया। जिनको यह सामग्री वितरित की गई उनमें भूरी अहिरवार पत्नी हरिराम निवासी ग्राम-खिरियाखुर्द, रोशनी राजपूत पत्नी अवधेष निवासी ग्राम-धोबन खेरी, सोनम जैन पत्नी रोहित जैन मुहल्ला सरायपुरा, धनकुंवर पत्नी स्वामी प्रसाद निवासी ग्राम-सुनवाहा, आरती विश्वकर्मा पत्नी सतेन्द्र, मुहल्ला तालाबपुरा, रचना पत्नी बहादुर, ग्राम-सिवनीखुर्द, आरती जैन पत्नी अवष्य, ग्राम-खिमलासा (म0प्र0), अंजलि पत्नी सोनप्रताप, ग्राम-पड़ोरिया, सपना चौहान पत्नी केशवेन्द्र, विदिषा (म0प्र0), दीक्षा पत्नी देवेन्द्र,ग्राम-खड़ोवरा, यशोदा पत्नी भानुप्रताप ग्राम-बिरारी, साक्षी यादव पत्नी आशीष, ग्राम-अंधेर, 13-वर्षा कुशवाहा पत्नी संजू, ग्राम-गडिय़ा, सरस्वती पत्नी मान सिंह, ग्राम-हीरापुर, सुदामा पत्नी ओमकार, ग्राम-बुढ़वार (जुड़वा पुत्रियों को जन्म दिया), लक्ष्मी अहिरवार पत्नी विजयप्रताप, मु0 नेहरूनगर, रमा नामदेव पत्नी संजीव, तालाबपुरा, वन्दना रजक पत्नी करन, मु0 पिसनारीबाग को पुत्री प्राप्ति के उपलक्ष्य में सम्मान पत्र देकर पुरस्कृत किया गया। जिलाधिकारी द्वारा कहा गया कि बेटियो के जन्म को महोत्सव के रूप में मनाये। लड़कियों का पालन-पोषण, स्वास्थ और शिक्षा बिना किसी भेदभाव के समान अधिकारों के साथ सशक्त नागरिक बनाये। बेटियां आज किसी भी स्तर पर बेटो से कम नहीं है, बेटा तो एक ही कुल का नाम रोशन करता है लेकिन बेटी दो-दो कुलो की शान होती है साथ ही जन्मी पुत्रियों के परिजनों से कहा गया कि वह मुख्यमंत्री कन्या सुमंगला योजनान्तर्गत अपनी बच्चियों का ऑनलाइन आवेदन कराये तथा अन्य महिला/बालिकाओं से सम्बन्धित कल्याणकारी योजनाओ का लाभ प्राप्त करें। बेटियों की शिक्षा  बाधित न होने दे, बेटियों को शिक्षित करें जिससे वह अपना उज्जवल भविश्य बना सके। कार्यक्रम में मुख्य चिकित्सा अधीक्षक डा.हरेन्द्र सिंह चौहान, जिला प्रोबेशन अधिकारी सुरेन्द्र कुमार पटेल, डा. बद्रीप्रसाद इटेलिया, महिला कल्याण अधिकारी ममता श्रीवास, संरक्षण अधिकारी (सा0दे0) पंकज कुमार, संरक्षण अधिकारी (गै0सा0दे0) जयराम, आंकड़ा विश्लेषक रमाकान्त नगाइच, सामाजिक कार्यकर्ता रूपेश कुमार शर्मा, कु0 प्रियंका, प्रविज्ञ जैन, सुरेश श्रीवास्तव आदि उपस्थित रहे।

कोई टिप्पणी नहीं