Breaking News

उत्साह पूर्वक मना ईशा मसीह का जन्म दिवस गिरजा घरों में हुई प्रार्थना सभाएं गाए मशीही गीत।

उत्साह पूर्वक मना ईशा मसीह का जन्म दिवस गिरजा घरों में हुईं प्रार्थना सभाएं गाए मशीही गीत ।
 केक एवं मिठाई खिलाकर मनाई त्योहार की खुशियां बांटे उपहार विद्यालयों में हुए सांस्कृतिक कार्यक्रम।  
जनपद ललितपुर में  ईशा मसीह का जन्म दिवस श्रृद्धा भाव के साथ मनाया गया इस अवसर पर गिरजा घरों में प्रार्थना सभाएं आयोजित की गई एवं बच्चों को उपहार वितरित कर क्रिसमस का त्योहार मनाया गया । साढूमल स्थित जीसस एंड मैरी स्कूल में प्रभु ईसा मसीह का जन्म दिन हर्षोल्लास के साथ मनाया गया विद्यालय परिसर में स्थित चर्च में प्रार्थना सभा आयोजित की गई इस अवसर पर फादर ने यीशु मसीह का संदेश पढ़कर सुनाया और समुदाय के लोगों को उनके मार्ग पर चलने का संकल्प दिलाया क्रिसमस डे पर ईसाई समुदाय के लोगों ने केक काटा, साथ ही विद्यालय में सांस्कृतिक कार्यक्रम आयोजित किए गए जिसमें जिंगल बेल जिंगल बेल गीत गाए और एक दूसरे को यीशु के जन्म दिन की बधाई दी। क्रिसमस के त्योहार को देखते हुए ईसाई समुदाय के लोगों में कुछ दिनों से अच्छा खासा उत्साह देखने को मिल रहा था जहां एक ओर अपने घरों को आकर्षक ढंग से बिजली की झालरों से सजाया जा रहा था तो वहीं दूसरी ओर मीठे मीठे पकवान बनाने का भी दौर चल रहा था । आखिर वह दिन आ गया जिसका सबको इंतजार था शुक्रवार को बच्चों एवं परिचितों के बीच प्रभु ईसा मसीह का जन्म दिन धूमधाम से मनाया गया । सुबह के बक्त विशेष प्रार्थना सभा की गई। फादर ने प्रभु यीशु के जन्म और उनके जीवन से जुड़ी घटनाओं को बताया कहा कि उनका जन्म मानव कल्याण के लिए हुआ था पाप और बुराई की दांसता में फसी मानव जाति को मुक्ति दिलाने के लिए प्रभु ईसा मसीह का जन्म हुआ प्रेम शांति, सेवा भाव, मेल मिलाप, क्षमा आदि सद्गुणों से सुसज्जित यीशु ने लोगों को सच्चे मार्ग पर चलने काे संदेश दिया था।
 इस अवसर पर मैरी स्कूल में क्रिसमस-ट्री की झांकी सजाई गई पूरे परिसर में रंग-बिरंगे गुब्बारों के साथ साज सज्जा की गई बच्चे सांता क्लोज की वेशभूषा में उपस्थित हुए  बच्चों ने जिंगल बेल की धुन पर डांस किया शिक्षिकाओं ने प्रभु यीशु की जन्म कथा सभी विद्यार्थियों को सुनाई अंत में फादर द्वारा सभी विद्यार्थियों को चॉकलेट व गिफ्ट्स वितरित किए गए इस अवसर समस्त स्टॉफ उपस्थित था। वहीं जनपद के कई गैर ईसाई परिवारों ने भी प्रभु ईशु का जन्म दिवस मनाया इस अवसर पर बच्चों द्वारा केक काटकर एक-दूसरे का मुंह मीठा कराकर क्रिसमस की बधाई देकर उपहार भेंट किए।

कोई टिप्पणी नहीं