Breaking News

ग्राम पंचायत में प्रसाशक बैठाने से बढ़ेगा भ्रष्टाचार ।

पंचायत चुनाव तक बढ़ाया जाये ग्राम प्रधानों का कार्यकाल
ललितपुर। आगामी समय में होने वाले पंचायत चुनाव को लेकर शासन स्तर से तैयारियां चल रहीं हैं। इसी क्रम में 25 दिसम्बर तक ग्राम पंचायतों का कार्यकाल समाप्त हो रहा है, जिससे प्रधानों के वित्तीय अधिकार क्षीण हो जायेंगे। सपा ने प्रधानों का कार्यकाल पूरा होने पर प्रशासन बैठाये जाने का विरोध दर्ज कराते हुये ग्राम प्रधानों का कार्यकाल बढ़ाये जाने की मांग उठायी। इस सम्बन्ध में समाजवादी पार्टी ने जिलाध्यक्ष तिलक यादव एड. के नेतृत्व में कलेक्ट्रेट पहुंच कर मुख्यमंत्री के नाम एक ज्ञापन प्रशासन को सौंपा।
ज्ञापन के जरिए सपा जिलाध्यक्ष तिलक यादव एड. ने अवगत कराया कि उत्तर प्रदेश में ग्राम पंचायतों का वर्तमान कार्यकाल 25 दिसम्बर को समाप्त होने जा रहा है,और सरकार ग्राम प्रधानों के स्थान पर प्रशासक बैठाये जाने पर विचार कर रही है। जबकि समाजबादी पार्टी की मांग है कि मध्य प्रदेश की तर्ज पर पंचायतों के चुनाव होने तक वर्तमान प्रधानों का कार्यकाल बढ़ाया जाये। प्रशासक बैठाये जाने से अधिकारियों पर अतिरिक्त कार्यभार बढ़ेगा जिससे विकास कार्य प्रभावित होंगे। ज्ञापन देने वालों में  पूर्व विधायक रमेश कुशवाहा, पूर्व विधायक फेरनलाल अहिरवार, जीतू सरदार, अमर सिंह भैंरा, रमेश सिंह यादव, अशोक अहिरवार, शाकिर अली, आशीष अहारिया, इंजी.हृदेश यादव मुखिया, सुरेन्द्र पाल सिंह यादव, अंकित नौहरकलां, शिवम मिश्रा, प्रभुराज, जयपाल सिंह, धर्मेंद्र सिंह प्रधान, अनिरुद्ध प्रधान, कृपाल सिंह प्रधान, राजेन्द्र सिंह प्रधान, अवधेश प्रधान, जितेंद्र बन्ट, हरगोबिंद चौरसिया, प्रमोद यादव, श्रीराम नेता आदि मौजूद रहे ।

कोई टिप्पणी नहीं