Breaking News

कृषि बिल के समर्थन में उतरे ललितपुर जिले के अन्नदाता ।


भारतीय जनता पार्टी किसान मोर्चा के बैनर तले किसानों ने निकाली विशाल टैक्टर रैली ।
कृषि उपकरण टैक्टर का पूजन करते राज्यमंत्री मनोहर लाल पंथ ।

 ललितपुर । मंगलवार को भारतीय जनता पार्टी किसान मोर्चा के बैनर तले जिला मुख्यालय पर किसान बिल के समर्थन में विशाल ट्रैक्टर रैली निकाली गई जिसमें बड़ी संख्या में अन्नदाता सामिल हुए उन्होंने कृषि बिल के समर्थन में जमकर नारेबाजी करते हुए बिल को बताया किसान हितैषी तुवन मंदिर प्रांगण में ट्रैक्टर, हल, पंजा जैसे कृषि उपकरणों के पूजन के साथ ही रैली का समापन किया गया ।
केन्द्र सरकार द्वारा लाया गया कृषि बिल भारी हंगामे एवं भारी विरोध के बाद संसद के दोनों सदनों में पास हो गया साथ ही राष्ट्रपति की मुहर के बाद कानून बन गया । कृषि बिल को लेकर विपक्षी दलों ने जमकर हंगामा काटा कृषि बिल को किसान विरोधी एवं काले कानून की संज्ञा देकर संसद से लेकर सड़क तक हंगामा किया सरकार के निर्णय के खिलाफ जगह जगह धरना एवं विरोध प्रदर्शन कर कृषि बिल की वापसी के लिए केन्द्र सरकार पर दवाब बनाने के साथ साथ राष्ट्रपति को संबोधित ज्ञापन दिए गये लेकिन केन्द्र सरकार किसानों के हितों को लेकर द्रढ़ संकल्पित है और कठिन से कठिन निर्णय लेने से भी नहीं हिचकिचा रही है । मंगलवार को ललितपुर जिले के सैकड़ों टैक्टरों में सवार होकर आए हजारों  अन्नदाताओं ने कृषि बिल के समर्थन में उतर कर विपक्ष के मंसूबों पर पानी फेर दिया  उन्होंने कृषि बिल को किसान हितैषी बताते हुए केन्द्र सरकार के इस निर्णय की सराहना की साथ ही किसानों ने लोक संस्कृति और लोक गीतों के माध्यम से केंद्र सरकार और राज्य सरकार का गुणगान किया जैसे ही रैली के बीच किसान मोर्चा के प्रदेश महामंत्री रामनरेश तिवारी एवं उत्तर प्रदेश सरकार के श्रम एवं सेवायोजन राज्य मंत्री मनोहर लाल पंथ मन्नू कोरी किसानों के बीच पहुंचे किसानों ने सरकार के पक्ष में जमकर नारेबाजी की ।।इस अवसर पर श्रम एवं सेवायोजन राज्य मंत्री ने केंद्र सरकार द्वारा किसानों के हित में चलाई जा रही योजनाओं पर प्रकाश डाला। उन्होंने बताया कि किसान बिल का सबसे बड़ा लाभ है कि किसान देश की किसी भी मंडी में अपने उत्पाद को अधिकतम मूल्य पर बेच सकता है। किसानों की उपज में अब दलाली और आढ़त प्रथा को समाप्त करने का निर्णय सरकार द्वारा लिया जा रहा है। जो किसानों के हित में है। इसी प्रकार सरकार ने न्यूनतम मूल्य निर्धारित करके किसानों के लिए एक बहुत बड़ा सहारा दिया है। किसान सम्मान निधि, किसानों की बीमा की राशि का भुगतान, विभिन्न योजनाओं के माध्यम से किसानों को ऋण उपलब्ध कराना, पर्याप्त मात्रा में खाद और बीज की उपलब्धता इसके साथ ही साथ किसान को मूलभूत परेशानियों से मुक्ति दिलाने के लिए वर्तमान सरकार ने किसान बिल लाया है ।जो किसानों के हित में है।  विपक्ष  जान बूझकर  किसानों के लिए भड़काने का कार्य कर रहा है। बताते चलें पिछले दिनों नागरिकता संशोधन अधिनियम के विरोध में जिस तरह विपक्ष ने अपनी मर्यादाओं को तार-तार किया था उसी को फिर से दोहराने का कार्य विपक्ष के द्वारा किया जा रहा है ।जो विदेशी साजिश का परिणाम है ।किसानों को इन राष्ट्र विरोधी ताकतों से सावधान रहने की बहुत आवश्यकता है। इस अवसर पर किसान मोर्चा के जिला अध्यक्ष सुरेश कुमार  टोटे  ने किसानों की इतनी भारी संख्या में सहभागिता पर किसानों को धन्यवाद देते हुए केंद्र सरकार के प्रति किसानों के समर्थन को बताया। इस अवसर पर प्रदेश महामंत्री रामनरेश तिवारी ,श्रम एवं सेवायोजन राज्य मंत्री मनोहर लाल पंथ मन्नू कोरी ,क्षेत्रीय मंत्री गंधर्व सिंह लोधी,  अजय पटेरिया, सुरेश कुमार टोटे जिला अध्यक्ष किसान मोर्चा, पिछड़ा वर्ग मोर्चा जिला अध्यक्ष हरि ओम निरंजन ,सुरेश प्रकाश कौन्तेय, महावीर प्रसाद दीक्षित, आनंद देवलिया ,रामकुमार रिछारिया, श्यामबिहारी कौशिक मंडल अध्यक्ष ,बृजेश रिछारिया ,अखिलेश गोस्वामी, मुकेश पाल ,चंद्रभान ,रविंद्र सिंह परमार ,दिनेश गोस्वामी ,आशीष हुन्डेत ,सुनील मिश्रा, वृंदावन कुशवाहा, लोकपाल सिंह,कृष्णा विश्वकर्मा,शेर सिंह,अटल बिहारी टोंटे सहित भारी संख्या में किसान शामिल हुए।

कोई टिप्पणी नहीं