Breaking News

मुख्यमंत्री विवेकाधीन कोष से पीड़ित परिवार को मिली आठ लाख की आर्थिक सहायता।

तालबेहट तहसील के  मजरा मातौरा में तालाब में डूबने से चार बच्चों की मौत  का मामला।

घटना पर मुख्यमंत्री ने जताया था शोक आर्थिक मदद दिलाने के लिए अधिकारियों को दिए थे  निर्देश।





ललितपुर । बीते 20अक्टूबर को ललितपुर जनपद की तहसील तालबेहट की ग्राम पंचायत झावर के मजरा मातौरा निवासी एक परिवार के दो भाईयों के 4 मासूम बच्चों की मौत मछली पालन वाले  तालाब में  डूबने से हो गई मातौरा में घाटी इस  ह्रदय विदारक घटना से पूरे जनपद में सनसनी फ़ैल गई वहीं पीड़ित परिवार में कोहराम मचा हुआ है । थाना पूरा कला के गांव झावर  के मजरा  मातौरा निवासी संतोष प्रजापति का  8वर्षीय पुत्र  अरविंद एवं 6वर्षीय नरेंद्र प्रजापति ,वहीं मुकुंदी लाल के दोनों पुत्र जिनमें रविंद्र 12 वर्ष एवं  बृजेंद्र  6वर्ष मंगलवार की  दोपहर में  अपने खेत पर जानवर भगाने  गए हुए थे । देर शाम तक घर वापस नहीं लौटने पर परिजनों को उनकी चिंता सताने लगी उन्होंने आसपास में बच्चों की खोजबीन शुरू कर दी बच्चों की तलाश होने के लिए परिजनों को रास्ते में बने मनीराम वंशकार के खेत पर मछली तालाब के नजदीक बच्चों की चप्पले नजर आई तालाब के नजदीक चप्पले पड़ी होने से परिजनों को अनहोनी की आशंका महसूस हुई उन्होंने तालाब में जाकर देखा तो हाथ चार बच्चों के शव पड़े हुए थे इस हृदय विदारक घटना को देखकर परिजनों के हाथ पैर फूल गए और पूरे परिवार में कोहराम मच गया देखते ही देखते यह घटना गांव के साथ-साथ पूरे क्षेत्र में फैल गई बड़ी संख्या में लोग घटनास्थल पर पहुंच गए घटना की सूचना पाकर पूरा कला पुलिस भी मौके पर पहुंच गई पुलिस ने 4 बच्चों के शवों को तालाब से निकलवा कर पोस्टमार्टम के लिए भिजवा दिया था इस घटना में पीड़ित परिवार ने हत्या की आशंका जताते हुए कार्रवाई की मांग की थी लेकिन पुलिस ने तमाम छानवीन के बाद इस मामले को हत्या की जगह दुर्घटना बताया है ।

वहीं  जनपद ललितपुर के मातोरा में घटी इस घटना पर  मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ   गहरा शोक जताते हुए अध आदित्यनाथ ने भी इस घटना को संज्ञान में लेकर दुख जताया है और पीड़ित परिवार के प्रति अपनी शोक संवेदनाएं प्रकट करते हुए पीड़ित परिवार को आर्थिक सहायता उपलब्ध कराने के लिए अधिकारियों को निर्देश दिए हैं। इसी क्रम में उपजिलाधिकारी तालवेहट ने पीड़ित परिवारों की कमजोर आर्थिक स्थिति को देखते हुए आर्थिक मदद दिलाए जाने के लिए अपनी रिपोर्ट  जिलाधिकारी को भेजी थी । जिलाधिकारी अन्नवी दिनेश कुमार ने इस मामले को गंभीरता से लेते हुए मुख्यमंत्री कार्यालय को पत्र आर्थिक सहायता दिलाए जाने के लिए पत्र भेजा था । इस समबंध में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने प्रत्येक पीड़ित परिवार को चार चार लाख रुपए की आर्थिक मदद स्वीकृति प्रदान कर दी।  जिलाधिकारी एवं उपजिलाधिकारी की सराहनीय पहल के चलते पीड़ित परिवारों को आठ लाख रुपए की मदद दी गई।

कोई टिप्पणी नहीं