Breaking News

नेहरू महाविद्यालय में स्नातक की सीटें यथावत रखे जाने की मांग ।


बुंदेलखंड विश्वविद्यालय झांसी के कुलपति को समबोधित ज्ञापन अपर जिलाधिकारी न्यायिक को सोंपा ।
महाविद्यालय में स्नातक की सीटें न बढ़ाने पर आंदोलन की चेतावनी ।

ललितपुर (रमेश श्रीवास्तव) । बुंदेलखंड विश्वविद्यालय झांसी के कुलपति को संबोधित ज्ञापन अपर जिलाधिकारी न्यायिक लव कुश त्रिपाठी को सोंपक नेहरू महाविद्यालय में स्नातक की सीटें बढाए जाने की मांग की है अन्यथा की स्थिति में आंदोलन की चेतावनी दी गई ।
ज्ञापन के माध्यम से बताया गया की कोविड-19 के चलते इस वार अक्टूबर माह में प्रवेश प्रारंभ हुए है । नेहरू महाविद्यालय में  प्रथम वर्ष के छात्रों की सीट घटाकर 540 कर दी गई है जिससे छात्रों को प्रवेश लेने में असुविधा हो रही है 
वर्तमान समय कोविड-19 के चलते पूरी दुनिया की अर्थव्यवस्था तहस-नहस है और हमारे पूरे देश में बेरोजगारी लगातार बढ़ रही है और बुंदेलखंड पहले से ही पिछड़ा है ।  क्षेत्र के पिछड़े पन को देखते हुए नेहरू महाविद्यालय में जो सीटें कम कर दी गई हैं उनको पुनः बढ़ा दिया जाए क्योंकि प्राइवेट महाविद्यालयों में अत्यधिक फीस लग रही है और सही शिक्षा भी प्राप्त नहीं हो पाती है विद्यार्थियों को  की फीस लगभग 6000 से 8000 के बीच होती है और नेहरू महाविद्यालय की फीस 400 से 600 के बीच होती है नेहरू महाविद्यालय में उच्च स्तरीय शिक्षक लाइब्रेरी की व्यवस्था और फीस कम होने की कम होने के कारण सभी गरीब  और असहाय विद्यार्थी यहां आराम से पढ़ाई कर सकते हैं यहां पर सभी प्रकार की सुविधाएं उपलब्ध हैं । महाविद्यालय में 2000 विद्यार्थियों की पढ़ाने की क्षमता है यहां की सीट बढ़ाकर कम से कम 1500  कर दी जाये  अन्यथा विद्यार्थियों को महाविद्यालय में तालाबंदी उग्र आंदोलन चक्काजाम आदि सभी करने पर विवश होना पड़ेगा।
ज्ञापन देते समय सन्दीप जैन आजाद एड (जिलाध्यक्ष)शिवम तिवारी बिरधा,रवि बबेले निवऊवा,एड शशिकान्त सिंह लोधी एड मुकेश करमरा,आदि पदाधिकारी उपस्थित रहे ।

कोई टिप्पणी नहीं