Breaking News

सहायक लाइन मेन की मौत की जिम्मेवारी लेने से कन्नी काट रहा विभाग एवं संविदा कर्मी ।


ललितपुर । शुक्रवार को मड़ावरा क्षेत्र के गांव दिदौनियां में एक परिवार में उस बक्त मातम पसर गया, जब उस मैं परिवार के मुखिया की विद्युत करंट लगने से दर्दनाक मौत हो गई। बताया गया कि मृतक सम्बंधित क्षेत्र के लाईनमैन से मिलकर सहायक लाइन मेन के रुप में  काम किया  करता था।
 शुक्रवार को लाइन मरम्मत के कार्य के चलते बंद लाइन के चालू हो जाने के कारण वह  हाईटेंशन करंट की चपेट में आ गया और मौत हो गई थी ।
  थाना क्षेत्र मदनपुर के ग्राम दिदौनियां निवासी सुरेन्द्र सिंह पुत्र वीरसिंह राजपूत उम्र 34 वर्ष की बीते शुक्रवार को विद्युत करंट लगने से मौत हो गई। मृतक के परिवारीजनों ने आरोप लगाते हुए बताया कि सुरेन्द्र प्रतिदिन की तरह लाइन सुधारने के काम करने के लिये घर से निकला था, उसने लाइनमैन को सुबह 09:24 पर अपने मोबाइल से कॉल पर 11 हजार केवी की लाइन मरम्मत के लिए सिटडाउन मांगा था,जिस पर लाइनमैन ने तुरन्त सिटडाउन दे दिया था, लेकिन जब इस बारे मैं लाइनमैन से पूछा गया कि सिट डाउन क्यों दिया तो लाइन मैन अपना पलड़ा झाड़ते सिट डाउन देने से मना कर दिया अब मामला यही से उलझा हुआ नजर आ रहा हैं।कि  कोई जानकारी होते हुये पोल पर कैसे चढ़ सकता हैं।।यह तो जांच के बाद ही पता चलेगा कि दोषी कौन हैं। जब वह एक पोल की मरम्मत करने के बाद वह जैसे ही दूसरे पोल पर चढ़कर विद्युत लाइन सुधार रहा था कि तभी विद्युत सप्लाई शुरू हो गई जिससे सुरेन्द्र सिंह विद्युत करंट की चपेट में आकर वही चिपकर रह गया। प्रत्यक्षदर्शियों द्वारा लाइनमैन को दूरभाष से सूचना दी की सुरेन्द्र विद्युत करंट की चपेट में आकर चिपक गया है, जिस पर उसने 11 हजार केवी की लाइन को तुरन्त बंद कराया लाइन वन्द होते ही वह नीचे आ गिरा मौजूद लोगों द्वारा आननफानन में सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र मड़ावरा लाया जा रहा था कि रास्ते मे बम्होरी और मड़ावरा के बीच दम तोड़ दिया। अस्पताल में डॉक्टरों मृत घोषित कर दिया। मृतक का पुत्र दीपेन्द्र उम्र 14 वर्ष  एवं पुत्री दुर्गा राजपूत है । घटना की सूचना पर पहुंची मदनपुर  पुलिस ने  शव को अपने कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया।

                  इनका कहना।

मड़ावरा एस डी ओ विनोद कुमार से स्थानीय पत्रकारों द्वारा उक्त विषय पर जानकारी ली गई तो बताया कि मुझे मामले की कोई भी जानकारी नही है, विद्युत जूनियर इंजीनियर से जानकारी प्राप्त कर ले।

मड़ावरा विद्युत तैनात जूनियर इंजीनियर एस०पी० सिंह ने बताया कि मेरे द्वारा लाइनमेन मुकेश कुमार से वार्ता की गई तो लाइनमैन द्वारा बताया गया कि मेरे पास सुरेन्द्र सिंह का फोन आया था सिटडाउन मांग रहे थे पर मैने देने से मना कर दिया था,उसके बाद वह 11 हजार केवी पर चढ़कर लाइन की मरम्मत करने लगा जिससे करंट की चपेट में आने से उसकी मौत हो गई

कोई टिप्पणी नहीं