Breaking News

ललितपुर के पंजाब नैशनल बैंक में उड रही सोसल डिस्टैनसिंग के नियम की धज्जियां ।


दस दिनों तक बैंक में भुगतान बंद रहने के बाद  सोमवार को उमड़ी ग्राहकों की भीड़ ।
बैंक प्रबंधक द्वारा नहीं रखा जा रहा ग्राहकों की समस्या का ख्याल एकल खिड़की से कराया जा रहा भुगतान ।
खाता धारकों ने जिलाधिकारी को पत्र लिखकर की समस्या के समाधान की मांग ।


ललितपुर (रमेश श्रीवास्तव) । पंजाब नेशनल बैंक ललितपुर तुवन चौराहा के बैंक प्रबंधक की उदासीनता एक बार फिर देखने को मिली बिगत दस दिनों पहले शाखा में कार्यरत पांच कर्मचारियों के कोरोना पाॅजीटिव निकले के बाद से बैंक के कर्मचारियों ने ग्राहकों से लेन-देन बंद कर दिया था जिले की मुख्य शाखा होने के बाद भी प्रबंधक द्वारा कोई भी वैकल्पिक ब्यवस्था नहीं की जिससे ग्राहकों को काफी परेशानियों का सामना करना पड़ा । दस दिन बीतने के बाद सोमवार 5अक्टूवर को बैंक से भुगतान मिलने की उम्मीद में भारी संख्या में ग्राहकों की भीड़ उमड़ पड़ी ग्राहकों की भीड भाड एवं सुविधा को देखते हुए बैंक प्रबंधक ने कोई प्रबंध नहीं किए एक ही खिड़की से ग्राहकों का भुगतान कराया गया जिससे बैंक के बाहर भीड़ जमा होने से सामाजिक दूरी के नियम का खुलेआम उलंघन किया गया । खाताधारकों ने जिलाधिकारी को प्रार्थना पत्र भेजकर उचित कार्रवाई की मांग की है ।
 ललितपुर के तुवन चौराहे पर स्थित पंजाब नैशनल बैंक शाखा के  कर्मचारियों एवं बैंक प्रबंधक की मनमानी किसी से छुपी नहीं है  बैंक प्रबंधक की लचर कार्यप्रणाली एवं  कर्मचारियों की मनमानी के चलते बैंक में आने वाले ग्राहकों को तमाम समस्याओं का सामना करना पड़ रहा है । बार बार केवाईसी के नाम पर परेसान किया जाता है तो आधार कार्ड लिंक एटीएम बनवाने चैक बुक जारी कराने जैसे कार्यों के लिए  ग्राहकों को कई दिनों तक चक्कर काटने पड़ रहे हैं । यहां पर कार्यरत अधिकांश कर्मचारी के पास ग्राहकों की समस्याओं को सुनने का भी समय नहीं है 
 । सबसे ज्यादा परेशानी का सामना काउंटर से लेन-देन करने वाले ग्राहकों को करना पड़ रहा है । छुट्टियां होने या त्योहार पर पैसे निकालने वालों की  संख्या बढ़ जाती है लेकिन बैंक में खाता धारकों की जरूरत को देखते हुए कोई प्रबंध नहीं किए जाते एक ही काउंटर पर पैसों का भुगतान किया जाता उस काउंटर पर महिला और पुरुषों की लम्बी लम्बी लाईनें लगी रहती है और अपनी बारी आने का इंतजार करते करते पूरा दिन गुजर जाता है
उनका नंबर ही नहीं आ पाता है प्रतिदिन सैकड़ों की संख्या में खाताधारक बिना पैसे निकाले घर लौटने को मजबूर हो जाते हैं । 
 शाखा प्रबंधक की अपने बैंक के ग्राहकों के प्रति उदासीनता एवं कर्मचारियों की मनमानी के चलते जिले में अग्रणी बैंक का दर्जा प्राप्त पंजाब नेशनल बैंक आज अपने ग्राहकों की उम्मीदों पर खरा नहीं उतर रहा है बैंक में अव्यवस्थाओं का बोलबाला है और कर्मचारियों की मनमानी चरम पर बनी हुई है जिससे बैंक के कई कामकाज प्रभावित बने हुए है।इस समबंध में बैंक के खाताधारकों ने जिलाधिकारी ललितपुर अन्नवी दिनेश कुमार को प्रार्थना पत्र देकर बताया की हम लोगों में बहुत से सेवानिवृत्त कर्मचारी हैं जो पेन्सन पर निर्भर है बैंक से लेन-देन करने में लाइन में खड़े खड़े  दिन दिन भर गुजर जाता है घरेलू जरूरतों एवं बीमारियों का सीजन चलने के कारण पैसों की जरूरत है लेकिन बैंक प्रबंधक द्वारा ग्राहकों की परेशानियों को देखते हुए कोई प्रबंध नहीं किए जारहे हैं ग्राहकों को भारी असुविधा का सामना करना पड़ रहा है । ज्ञापन देने वालों में विनोद कुमार, लक्ष्मन प्रसाद, परसादी रमन विनोद कुमार, पद्म सिंह ,करन सिंह , मुन्ना लाल आदि के हस्ताक्षर बने हुए हैं ।

कोई टिप्पणी नहीं