Breaking News

कृषि बिल बापस कराने की मांग को लेकर भारतीय किसान यूनियन ने किया विरोध प्रदर्शन ।



बिल के विरोध में उतरी भारतीय किसान यूनियन बोली बिल वापस न हुआ तो होगा देश व्यापी  आंदोलन । 

ललितपुर(रमेश श्रीवास्तव) । संसद में हंगामे के बीच कृषि बिल पास तो हो गया लेकिन विपक्षी दलों ने सरकार को इस मुद्दे पर घेरने में कोई कसर नहीं छोड़ रहे हैं संसद से सुरू हुआ हंगामा एवं विरोध प्रदर्शन अब सड़कों पर उतर आया है विपक्षी दल सरकार को किसान एवं ,ब्यापारियों की विरोधी बेरोजगार एवं कर्मचारियों की विरोधी  जैसे मुद्दों पर घेरती चली आ रही हाल ही में पास हुए कृषि बिल के विरोध में अब विपक्षी दल सड़क पर उतर आए हैं और बिल को वापस लेने की मांग कर रहे हैं । इसी क्रम में सोमवार को ललितपुर के  कलेक्ट्रेट परिसर में भारतीय किसान यूनियन के नेतृत्व में किसान बिल के विरोध में  यूनियन के पदाधिकारियों के साथ किसानों ने सरकार के विरोध में जमकर नारेबाजी करते हुए किसान विरोधी बिल को वापस लेने की जोरदार मांग उठाई विरोध प्रदर्शन के दौरान  किसान नेताओं और पुलिस प्रशासन के बीच झड़प भी हुई.।
विरोध प्रदर्शन में मौजूद भारतीय किसान यूनियन के प्रदेश सचिव का कहना है कि ये अध्यादेश किसान विरोधी है और इसे सरकार को वापस करना ही होगा नहीं होगा तो यूनियन देशव्यापी आंदोलन छेड़ने को बाध्य होगा । प्रदेश सचिव ने कहा की केंद्र सरकार तीन अध्यादेश लाई है इसमें किसानों का हित कहीं नजर नहीं आ रहा है 
 इस बिल में  हित कम और अहित ज्यादा है ।  भारतीय किसान यूनियन राष्ट्रीय नेतृत्व के आह्वान पर हर जनपद में इसके विरोध में मोदी सरकार को ज्ञापन दे रहे हैं. अगर अध्यादेश वापस नहीं होता है तो हम पूरे देश में आंदोलन करेंगे.।

कोई टिप्पणी नहीं