Breaking News

वनाधिकार दावों का निराकरण एक सप्ताह के पूर्व करेः-कलेक्टर



साक्ष्य के आभाव मे वनाधिकार के किसी भी प्रकरण को निरस्त न करेः-कलेक्टर
सिंगरौली । वनाधिकार के सभी दवो  का निराकरण  एवं पूर्व में निरस्त  किये गये वनाधिकार दावों का निराकरण अनिवार्य रूप से एक संप्ताह मे पूर्ण किया जाये जो आदिवासी लम्बे समय से वन भूमि में काबिज हैं उनके वनभूमि के पट्टे नियम के अनुसार मान्य किये जाये। उक्त आशय का निर्देश कलेक्टर श्री राजीव रंजन मीना के द्वारा कलेक्ट्रेट सभागार मे आयोजित बैठक के दौरान संबंधित अधिकारियो को दिया गया। 
उन्होने कहा कि प्रदेश सरकार द्वारा वन अधिकार अधिनियम के तहत  पूर्व में निरस्त दावों की पुनः समीक्षा करने का निर्णय लिया गया है। इस कार्य को राज्य सरकार ने सर्वोच्च प्राथमिकता में रखा है। उन्होंने कहा कि निरस्त दावों का ग्राम, उपखंड और जिला स्तर पर गठित समिति द्वारा निराकरण किया जाये।उन्होंने जिला अधिकारियों को वन एवं राजस्व अधिकारियों के साथ मौका मुआयना किये जाने के निर्देश भी दिया। 
  बैठक मे कलेक्टर ने  अनुसूचित जाति एवं परंम्परागत वन निवासियो के मान्य प्रकरणो के दावे अपंत्तियो के निराकरण के प्रगति की समीक्षा करते हुये सभी उपखण्ड अधिकारियो एवं जनपद पंचायतो के मुख्य कार्यपालन अधिकारियो को निर्देश दिये कि एसटी वर्ग के मान्य प्रकरणो को शीघ्र जिला स्तर पर भेजने की कार्यवाही करे। उन्होने कहा कि  जिन प्रकरणो का निराकरण नही पाया है उपखण्ड अधिकारी उपखण्ड स्तर पर बैठक आयोजित प्रकरणो के जल्द से जल्द निराकृत करने का प्रयास करे उन्होने निर्देश दिया कि आदिवासी वर्ग के मान्य दवो को सयम पर निराकृत करे। कलेक्टर ने कहा कि  सक्ष्य के आभाव मे निरस्त किये गये दवो का पुनः परीक्षण करे कोई भी एसटी वर्ग का पात्र दावेदार वनाधिकार पट्टे से वंचित ना रहे। 
कलेक्टर श्री मीना ने अनुसूचित जन जाति परंम्परागत वन निवासियो के वनाधिकार के तहत प्राप्त आवेदनो के निराकरण एवं भौतिक सत्यापन के प्रगति की समीक्षा करते हुये कहा जिन क्षेत्रो मे वनाधिकार के प्रकरणो का निराकरण किया जा शेष है प्रगति संतोष जनक नही है एक सप्ताह के अंदर शत प्रतिशत प्रकरणो का निराकरण करे। 
बैठक मे वन मण्डल अधिकारी विजय सिंह ने कहा कि राजस्व टीम एवं वन विभाग की टीम संयुक्त रूप से पंचायत वार गठित समिति के सदस्यो के साथ बैठक कर प्रकरणो का निराकरण करने की कार्यवाही करे।बैठक के दौरान जिला पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी साकेत मालवीय, अपर कलेक्टर बी.के पाण्डेय, संयुक्त कलेक्टर व्हीपी पाण्डेय, एसडीएम ऋषि पवार, विकास सिंह, एसपी मिश्रा, नीलेष शर्मा, डिप्टी कलेक्टर सम्पदा सर्राफ सहित समस्त तहसीलदार, जनपद पंचायतो के मुख्य कार्यपालन अधिकारी उपस्थित रहे।

कोई टिप्पणी नहीं