Breaking News

विकास कार्यों में हुई अनियमित्ताओं के विरोध में उतरे ग्रामीण उठाई कार्रवाई की मांग ।


विकास खंड जखौरा के गांव खड़ोवरा में धरातल की जगह कागजों में हुए विकास कार्य ।

ललितपुर। सरकार भले ही ग्रामीण क्षेत्रों के विकास के लिए द्रढ संकल्पित हो और करोड़ों रुपए की धनराशि ग्राम पंचायत निधि एवं चौदहवें वित्त आयोग के माध्यम से भेज रही हो लेकिन  विकास कार्यों के लिए भेजा जा रहा 
अधिकांश धन भ्रष्टाचार की भेंट चढ़ रहा है अधिकारियों की मिलीभगत एवं संरक्षण के चलते अधिकांश मामले उजागर नहीं हो पाते और धन राशि का बंदरबांट चलता रहता है ।
  ऐसा ही एक मामला ब्लॉक जखौरा की ग्राम पंचायत  खड़ोवरा का सामने आया है ।  गांव निवासी भगवत पुत्र खेत सिंह ने जिलाधिकारी को  एक शिकायती पत्र सौंपाकर बताया की उसकी  ग्राम पंचायत के क्षेत्र के प्रधान मीरा देवी पत्नी रामसेवक उर्फ पप्पू प्रधान प्रतिनिधि महोबत सिंह उर्फ राजू यादव एवं संबंधित  कर्मचारी के माध्यम से चेक भुगतान कर  सरकारी धनराशि का दुरुपयोग कर लिया है।  सारे कार्य केवल कागजों में ही दर्ज है  धरातल एवं मौके पर अधिकांश विकास नहीं कराए गए हैं  भ्रष्टाचार में लिप्त सभी जांच अधिकारियों ने बंदरबांट कर के मामले को दबाने का प्रयास किया है। बीते  26 जून को पूर्व जिलाधिकारी योगेश कुमार शुक्ल द्वारा जांच के संबंध में संबंधित विभाग को आदेशित एवं नोटिस जारी किया गया था, लेकिन उक्त अधिकारियों ने जांच नहीं की। उन्होंने डीएम से रोड निर्माण, कूप निर्माण, नाला गहरीकरण, तेल पूर्ति, बुधनीकरण, पावर ब्रेक, चेक डैम, गहरीकरण, रीबूट शौचालय के नाम पर इन लोगों ने पैसा हड़प कर लिया है। जनहित में क्षेत्र के नागरिकों ने ग्राम प्रधान एवं शासकीय कर्मचारियों की जांच कराकर कानूनी कार्रवाई की मांग की है।

कोई टिप्पणी नहीं