Breaking News

बैंक खुलने के बाद भी पसरा रहा संन्नाटा नहीं आए ग्राहक ।

बैंक प्रबंधक की मौत एवं कर्मचारियों की कोरौना रिपोर्ट नहीं आने से ग्रामीणों में दहशत ।

 ललितपुर ।  कस्वा सैदपुर स्थित प्रथमा यूपी ग्रामीण बैंक शाखा में प्रबंधक के पद पर पदस्थ कर्मचारी की मौत के बाद से बैंक में कार्यरत अन्य स्टाफ एवं ग्रामीणों में दहशत का माहौल इस कदर है की जिस बैंक में पैर रखने के लिए जगह नहीं मिलती थी कार्यालय के वाहर भी सैकड़ों लोगों की भीड़ जमा रहती थी  उस बैंक में गुरुवार को दिनभर संन्नाटा पसरा रहा खाताधारक बैंक संबंधित कार्य  के लिए नजर नहीं आए ।
 कस्वा  सैदपुर में ग्रामीण बैंक की शाखा में प्रबंधक के पद पर पदस्थ झांसी निवासी कोरोना पाॅजीटिव कर्मचारी पीके श्रीवास्तव की  बीते सोमवार को अपने घर झांसी में मौत हो गई थी बताया गया की उक्त कर्मचारी का लगभग  एक सप्ताह से स्वास्थ ठीक नहीं चल रहा था । कर्मचारी की मौत की खबर से 
कस्वा सैदपुर एवं आसपास के क्षेत्र में हड़कंप मच गया बैंक में पदस्थ अन्य  कर्मचारी भी परेशान नजर आए । एतिहात के तौर पर मंगलवार को बैंक में सैनेटाइजिंग का कार्य किया गया सेंनेटाइजिंग के बाद बैंक को  दो दिन के बंद कर दिया गया था । साथ ही बैंक कर्मचारियों ने मड़ावरा जाकर अपना अपना टैस्ट भी करवा लिया था । कर्मचारियों की टैस्ट रिपोर्ट आना बाकी है मंगलवार को कर्मचारियों ने अपने अपने टैस्ट करवाये थे लेकिन अभी रिपोर्ट आना बाकी है । जिससे एक तरफ ग्रामीणों में दहशत का माहौल है तो वहीं बैंक कर्मचारी भी तनाव में हैं ।  गुरुवार को बैंक की शाखा तो खुली लेकिन बैंक में सन्नाटा पसरा रहा बैंक संबंधित कार्य के लिए ग्राहक नजर नहीं आए ज्ञात हो की इस शाखा से लगभग एक दर्जन गांव के लोग जुड़े हुए हैं जो बड़ी संख्या में बैंक से लेन-देन करने के लिए प्रतिदिन आते हैं । बैंक में कार्यरत कर्मचारियों की रिपोर्ट आने के बाद ही लोगों का भय कम होगा तब तक ग्राहक बैंक से दूरी बनाकर चल रहे हैं । वहीं अन्य कर्मचारी भी तनाव ग्रस्त दिखाई दे रहे हैं ।

ग्राम प्रधान प्रतिनिधि सैदपुर सौरभ सिंह का कहना है की  की मृतक शाखा प्रबंधक की रिपोर्ट पाॅजिटिव आने के बाद बैंक में और भी कर्मचारी कोरोना संक्रमित हो सकते हैं इससे लोग अभी बैंक से दूरी बनाकर चल रहे हैं ।

कोई टिप्पणी नहीं