Breaking News

ललितपुर पुलिस ने चोरी की 15 बाईकों के साथ दो आरोपियों को किया गिरफ्तार।


वाहन चोरों को पकड़ने वाली पुलिस टीम को एसपी ने की 25000,रुपये इनाम देने की घोषणा ।

ललितपुर । पुलिस अधीक्षक ललितपुर कैप्टन एमएम बेग के निर्देशन में जिले में अपराध पर अंकुश लगाने  एवं जिले बढ़ रही वाहन चोरी की घटनाओं को रोकने के उद्देश्य को लेकर चलाए जा रहे अभियान के तहत कोतवाली पुलिस और स्वाट टीम की संयुक्त कार्रवाई के चलते अंतरराज्यीय वाहन चोर गिरोह को पकड़ने में  सफलता हासिल की है ।पुलिस ने दो आरोपियों के साथ चोरी की 15 बाइकें की  बरामद ।
ललितपुर स्थित गोविंद सागर बांध पर कोतवाली पुलिस एवं एसओजी की टीम वाहन चेकिंग और गस्त पर थी  तभी एक बांध की तरफ से बाइक आती दिखाई दी बाइक पर  दो व्यक्ति सवार होकर शहर की ओर जा रहे थे । जब बाइक सवारों ने बांध पर मौजूद पुलिस बल को देखा तो वह हड़बड़ा गए और गाड़ी को मोड़ कर दूसरी दिशा में भागने लगे। पुलिस ने शक के आधार पर जब पीछा कर बाइक सवारों को दबोचा तो वह घबरा गए। पुलिस ने जब उनसे पूछताछ की तो पहले तो वह अनाप-शनाप बातें करने लगे इस पर  पुलिस को जब शक हुआ तो पुलिस ने बाइक के कागजात मांगे तो वह कागजात नहीं दिखा सके जब उनसे पुलिस ने कड़ाई से   पूछताछ की तो सारा माजरा खुलकर सामने आ गया।
पुलिस की पूछताछ में उन्होंने बताया कि जो मोटरसाइकिल लिए हुए चोरी की है उसके कागजात उनके पास नहीं है। उन्होंने यह भी कबूल किया कि वह ललितपुर शहर और आसपास के क्षेत्रों से बाइकें चुराकर समीपवर्ती मध्यप्रदेश के कस्बों गांवों और शहरों में बेचने का काम किया करते हैं। इससे यह साबित हुआ कि उनके तार मध्य प्रदेश के शातिर वाहन चोर अपराधियों से भी जुड़े हुए हैं। पुलिस की पूछताछ में उन्होंने बताया कि वह दौनों थाना जाखलौन के अंतर्गत यूपी एमपी की सीमा से सटे ग्राम अमऊखेड़ा की रहने वाले हैं जहां से वह अपने इस कारोबार को अंजाम देते थे उन्होंने कई जगह से  चुराई 15 बाइकों की चोरी भी कबूली जिसे  उनकी निशानदेही पर एक निर्जन स्थान से खंडहर नुमा मकान से पुलिस ने बरामद कर लिया। सभी बाइकों की कीमत लगभग 6 लाख रुपए के आसपास आंकी गई है। एसओजी टीम और सदर कोतवाली पुलिस के संयुक्त प्रयास से उक्त बड़ी सफलता हाथ लगी है। पुलिस ने दोनों ही अभियुक्तों का मेडिकल कराकर उन्हें जेल भेज दिया है एवं आगे की कार्यवाही में जुट गई है तथा वाहन स्वामियों को भी सूचित कर दिया गया है।

इस मामले में पुलिस अधीक्षक कैप्टन एम एम बेग का कहना है कि काफी समय से जिला में वाहन चोरियों की शिकायत आ रही थी। जिसके परिपेक्ष में चेकिंग और गस्त अभियान चलाया जा रहा था। उसी समय कोतवाली पुलिस और एसओजी टीम को संयुक्त रूप से बड़ी सफलता हाथ लगी है इस सफलता के लिए दोनों ही टीमों को संयुक्त रूप से 25 हजार का इनाम दिया जा रहा है।

कोई टिप्पणी नहीं