Breaking News

दस सूत्रीय समस्याओं को लेकर शिक्षकों ने सौंपा ज्ञापन , बीईओ जखौरा ने दिया समस्याओं के निस्तारण का आश्वासन ।


ललितपुर। शिक्षकों की विभिन्न समस्याओं को लेकर मंगलवार को उत्तर प्रदेशीय प्राथमिक शिक्षक संघ के अध्यक्ष ब्लाक जखौरा अध्यक्ष हरीराम खरे ने एक ज्ञापन खण्ड शिक्षा अधिकारी को सौंपा है। ज्ञापन में दस सूत्रीय समस्याओं के निस्तारण किये जाने की मांग उठायी गयी। ज्ञापन में बताया गया कि प्राथमिक विद्यालय में द्वितीय ड्रेस का पैसा आज तक नहीं पहुंचा, ऐसी स्थिति में नवीन सत्र में छात्रों को निशुल्क डे्रस देना संभव नहीं है। इसके अलावा ग्राम शिक्षा निधि खातों में जो धनराशि है, उसे विभाग बैंक को निर्देशित कर वापस ले या अध्यापकों को समय दिया जाये, क्योंकि बहुत से विद्यालयों के प्रधानाध्यापक व ग्राम प्रधान बदल गये हैं, जिससे खाता परिवर्तन में समस्या आ रही है। निशुल्क पाठ्य पुस्तकें विद्यालय पर ही शासनादेश अनुसार उपलब्ध करायी जाये, मानव सम्पदा में फीडि़ंग भरे की जिम्मेवारी विभागीय कर्मचारियों की थी, त्रुटि होने पर अध्यापक को जिम्मेदार न ठहराये जाने, मानव संपदा पोर्टल पर अध्यापक अवकाश लेखा नहीं दिया जा रहा है, इसमें लेखा पूर्ण कराया जाये, जिससे अध्यापक विधिवत अवकाश ले सकें। विद्यालय प्रबंध समिति के खातों में धनराशि प्रेषित की गयी है, उसकी मदवार सूचना दी जाये। विद्यालयों के निरीक्षण में पक्षपात पूर्ण व्यवहार किये जाने का आरोप भी लगाया। शिक्षक संकुल का चयन शासनादेश अनुसार नहीं किये जाने का आरोप लगाते हुये चयन निरस्त करते हुये शासनादेश अनुसार किये जान, सभी प्रकार के अवशेषों का अतिशीघ्र भुगतान किये जाने, इसके अलावा संविलियन का कार्य शासनादेश अनुसार नहीं किया गया है, यदि शासनादेश अनुसार किया गया तो ब्लाक इकाई को सूची उपलब्ध कराये जाने की मांग उठायी गयी। इसके साथ ही कंटेनमेंट जोन में रहने वाले अध्यापकों के अवकाश के संबंध में उन्होंने बताया कि उच्चाधिकारियों से प्राप्त दिशा निर्देशों के क्रम में अवगत करा दिया जाएगा। ज्ञापन देने वालों में उत्तर प्रदेशीय प्राथमिक शिक्षक संघ के ब्लॉक अध्यक्ष  हरीराम खरे, ब्लॉक मंत्री आलोक स्वामी, जिला संघर्ष समिति के कोषाध्यक्ष अनेक सिंह, कार्यवाहक जिला कोषाध्यक्ष देवेंद्र जैन, अखिलेश गोस्वामी, सुनील कौशिक, प्रमोद नापित, राम नरेश एवं महेंद्र निरंजन, महेश शर्मा अध्यापक उपस्थित रहे एवं सोशल डिस्टेंस का पूर्ण पालन किया गया।

कोई टिप्पणी नहीं